चिया बीज के फ़ायदे, पोषक तत्व, इस्तेमाल, नुकसान और सुझाव

चलिए आज बात करते है चिया सीड्स के बारे में “नाम तो सुना ही होना”. इन सीड्स में ऐसे कोन कोन से पोषक तत्व पाए जाते है जो हमे फ़ायदे पंहुचा सकते है. 

और इसका खाने के लिए इसका किस प्रकार इस्तेमाल करे और कितना खाए , ताकि इससे होना साइड इफेक्ट्स से बचकर इसका फ़ायदे उठा सके. 

क्या है ये चिया के बीज ? – What are Chia Seeds in Hindi ?

चिया सीड्स पैदा करना वाला पौधा एक साधारण पौधा के ही तरह दिखता है. आज के समय में चिया के बीज बाजार में अपनी जगह  बनाने में बिलकुल भी पीछे नहीं रहा है. 

ऐसा इसीलिए हुआ है किउंकि लोग इसे कई फायदों के लिए इस्तेमाल करते है. जैसे की वजन घटाने के लिए, दलिया में डालकर खाते है,  चिया पुडिंग या पेय के रूप में खा सकते हैं.

चिया बीज का पोधा एक रेगिस्तानी पौधे साल्विया हिस्पैनिक से आते हैं, जो की एक पुदीना परिवार का एक सदस्य होता है. 

साल्विया हिस्पैनिका बीज अक्सर अपने देखा होगा की इसे सामान्य नाम “चिया” के साथ-साथ कई ट्रेडमार्क नामों के तहत बेचा जाता है. 

माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति मध्य अमेरिका में ही थी. जहां एज़्टेक नामक आहार में चिया के बीज का इस एहम रूल था. 

मुख्य रूप से दक्षिण-पश्चिमी संयुक्त राज्य अमेरिका में मूल अमेरिकियों द्वारा इसके उपयोग किए जाते थे.(1)

चिया बीज में मोजूद पोषक तत्व – Nutrition Value of Chia Seeds

चिया सीड्स के दो बड़े चम्मच (1 औंस या 28 ग्राम) में :-

  • लगभग 140 कैलोरी
  • 4 ग्राम प्रोटीन
  • 11 ग्राम फाइबर
  • 7 ग्राम असंतृप्त वसा यानी Fat
  • कैल्शियम के लिए 18% आरडीए
  • जिंक
  • कॉपर
  • ओमेगा -3 फैटी एसिड
  • नौ आवश्यक अमीनो एसिड

आदि, चीय बीज में ये सभी खनीज पदार्थ पाए जाते है. चीय पोधे ओमेगा -3 फैटी एसिड के सबसे अमीर पौधे की गिनती में आता है. इसमें प्रोटीन सम्पुर्ण मात्रा में मोजूद होता है. 

जिसमें सभी नौ आवश्यक अमीनो एसिड पाए जाते हैं जो शरीर द्वारा नहीं बनाए जा सकते. जिसे हमें आहार में रूप में ही बहार से लेना होता है.(2)

चिया सीड्स के फायदे – Chia Seeds Benefits in Hindi

चिया सीड्स से वजन कम करने के बारे में “एंड्रयू वेइल”, एमडी क्या कहते हैं !

एंड्रयू वेइल कहते हैंकि मैंने कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं देखा है कि चिया वजन घटाने में सहायक हो अकते है. कुछ अध्ययनों में से एक ने इस यादृच्छिक 90 अधिक वजन या मोटापे पर ध्यान दिया. 

लेकिन अन्यथा स्वस्थ व्यक्तियों को 20 से 70 वर्ष की आयु के बीच 25 ग्राम चिया बीज या एक प्लेसबो का सेवन 12 सप्ताह के लिए दिन में दो बार करना चाहिए. 

परिणामों ने दो समूहों के बीच वजन, शरीर की संरचना या रोग जोखिम कारकों में कोई अंतर देखने को नहीं मिला.(3)

अगर चीय बीज से वजन कम हो सकता है तो उसका कारण है इसमें मोजूद अधिक मात्रा में फाइबर.

आप केवल दो बड़े चम्मच चिया सीड्स से फाइबर के अनुशंसित दैनिक सेवन का 40 प्रतिशत प्राप्त कर सकते हैं. 

उच्च फाइबर वाला आहार वजन घटाने के काम आता है, शायद इसलिए कि फाइबर आपको लंबे समय तक आपको भरा हुआ महसूस कराता है और मुख जल्दी से नही लगती.

चिया सीड्स खाने के तरीके – How to Eat Chia Seeds in Hindi

अब सवाल ये आता है कि चीय सीड्स के बारे में तो जान लिया, लेकिन चिया के बीज कैसे खाएं (use of chia seeds in hindi). जिसके बारे में हम आगे बात करने वाले है.

चिया बीज को कच्चा भी खाया जा सकता है और कई व्यंजनों में तैयार किया जा सकता है.

अनाज, चावल, दही या सब्जियों पर पिसा हुआ या साबुत चिया बीज छिड़कें। 

मेक्सिको में, चिया फ्रेस्को नामक पेय को फलों के रस या पानी में चिया बीज भिगोकर बनाया जाता है. 

चिया बीज बहुत शोषक होते हैं और इसे जब पानी में भिगोने  पर यह एक जेली के दानो की तरह बन जाता है.

जिससे उन्हें पके हुए अनाज या अन्य व्यंजनों में मिलाना आसान हो जाता है.

केवल बीज ही चिया पौधे का महत्वपूर्ण हिस्सा नहीं हैं; अंकुरित अनाज भी खाने लायक होते हैं 

और उन्हें सलाद, सैंडविच और अन्य व्यंजनों में शामिल करने का प्रयास कर सकते है.(4)

चिया बीज और अलसी के बीज में अंतर – Difference between chia seeds and flax seeds

इंटरनेट पर लाखो की मात्रा लेख मोजूद हैं जो यह गारंटी देते हैं कि अलसी चिया सीड्स की तुलना में एक सुपरफूड हैं. 

तथ्य यह प्रदर्शित करते हैं कि अलसी के बीजों में ऐसे पदार्थ होते हैं जो प्रसंस्करण को आगे बढ़ाते हैं. 

अलसी के बीजों में चिया सीड्स की तुलना में थोड़ा अधिक फैट पाया होता है. अंतिम में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है।

जहां अलसी के बीज विटामिन ई पर जीत हासिल करते हैं, वहीं चिया सीड्स में अधिक विटामिन बी1 होता है.

धीरे-धीरे दोनों में उच्च मात्रा में आहार फाइबर होता है, जो स्वीकार्य अवशोषण के लिए महत्वपूर्ण है।

चिया बीज खाने के नुकसान – Side Effects of Chia Seeds in Hindi

हाँ अपने सही पढ़ा, चिया सीड्स शायद सबसे अच्छी चीज हैं. लेकिन उनके पास अभी भी साइड इफेक्ट का अपना हिस्सा है. 

अगर आप सही प्रकार से इसका सेवन नहीं करते या अधिक मात्रा में लेते है तो, या अगर आप किसी भी बीमारी से जूझ रहे हो तब.

पाचन संबंधी समस्याएं का कामना करना पद सकता है. ये चिया सीड्स का सबसे आम दुष्प्रभाव हैं, इसमें कब्ज, कठोर मल और सूजन शामिल हो सकती हैं. 

इसे बहुत कम मात्रा 1½ चम्मच से शुरुआत करनी चाहिए और धीरे-धीरे इसे आवश्यक के अनुसार मात्रा में बढ़ाकर इसे आसानी से रोका या कम किया जा सकता है.

यह आंतों के बैक्टीरिया को तदनुसार अनुकूलित करने की अनुमति देता है.

इसके साथ जुड़े कुछ साइड इफेक्ट हैं. और इसके लाभ आमतौर पर किसी भी साइड इफेक्ट से अधिक होते हैं जब संतुलित आहार के हिस्से के रूप में कम मात्रा में सेवन किया जाता है।

प्रोस्टेट कैंसर पर इसके प्रभाव के बारे में कुछ परस्पर विरोधी शोध हुए हैं.

प्रोस्टेट कैंसर पर एएलए के प्रभावों पर एक अध्ययन से पता चला है कि इसमें उपस्थित फैटी एसिड प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है.

लेकिन  बाद में अध्ययन में कुछ हानि पी गई. वास्तव में, 2010 में एक अन्य नए अध्ययन के अनुसार, ALA ने प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को नहीं बढ़ाया पाया गया.

यह वास्तव में अध्ययन प्रतिभागियों के लिए संक्रमण के जोखिम को कम करता है।

कभी-कभी कुछ लोगों को चिया सीड्स खाते समय पेट में तकलीफ महसूस हो सकती है. विशेष रूप से बड़ी मात्रा में, उच्च फाइबर सामग्री के कारण.

किसी भी भोजन की तरह, संयम से खाएं और हमेशा खूब पानी पिएं. चिया सीड्स खाने के बाद पानी की मात्रा बड़ा देनी चाहिए. किउंकि इसमें अधिक फायबर होता है.

यदि आपको कोई चिंता है या किसी भी लगातार दुष्प्रभाव का अनुभव है, तो अपना सेवन कम करने पर विचार करें और अपने डॉक्टर से इस बारे में चर्चा करना सुनिश्चित करे.

यदि आप किसी बीमारी से पीड़ित हैं या कोई भी दवा ले रहे हैं तो कोई भी कदम उठाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।